उच्च न्यायालय के आदेश पर दस अगस्त को होगी दुबारा जनगणना

गाजीपुर,03 अगस्त (एएनएस)। जिले के देवकली ब्लाक के बरहपुर ग्राम पंचायत के प्रधान पद के चुनाव की पुनः मतगणना दस अगस्त को होने के आदेश पर गाँव मे हड़कम्प मच गया है।उच्च न्यायालय ने यह आदेश प्रेमलता सिंह की याचिका पर दिया जो उस चुनाव मे प्रधान पद की उम्मीदवार थीं।याचिका पर सुनवाई करते हुए तथा दर्शायी गयी अनियमितताओ को संज्ञान मे लेते हुए उच्च न्यायालय ने उप जिलाधिकारी  सैदपुर को दोनों पक्षों के साक्ष्य, गवाही के आधार पर फैसला देने हेतु निर्देशित किया था।हाईकोर्ट के आदेश के पर एसडीएम सैदपुर ने दोनों पक्षों को सुना और प्रस्तुत किए गए साक्ष्यों का अवलोकन किया।तथ्यो के आधार पर उन्होंने दोबारा मतगणना की तारीख दस अगस्त निर्धारित कर दी है।

            उल्लेखनीय है कि पांच दिसंबर 2015 को ग्राम प्रधान के लिए मतदान  और 13 दिसंबर 2015 को मतगणना हुई। जिसमें उसमें वरहपुर की उम्मीदवार अर्चना सिंह को 1480 प्राप्त वोट दर्शाए गए और 38 वोट के अंतर से उन्हें निर्वाचित घोषित कर दिया गया। इस चुनाव परिणाम पर प्रधान  पद की दूसरी उम्मीदवार प्रेमलता सिंह ने तुरन्त आपत्ति की। उन्होंने मय साक्ष्य आरोप लगाया कि इस मतदान में बाहरी मतदाताओं के साथ  ही साथ जेल मे बंद तथा मृतक मतदाताओं के भी मत डाले गये हैं ।उन्होंने कहा कि  परिणाम की घोषणा प्रधान के लिए कुल 3433 मतों के आधार पर हुई है जबकि आर ओ के मेमो में कुल पड़े वोट 3432 अंकित हैं । उन्होंने स्थानीय स्तर से लेकर जिले तक शिकायत की पर किसी ने उनकी नहीं सुनी।प्रशासन की उपेक्षा से क्षुब्ध होकर उन्होंने हाईकोर्ट मे अपील दायर की पहुंची ।प्रस्तुत साक्ष्यो के आधार पर  बीते 19 अप्रैल को आदेश हुआ कि इस मामले की सुनवाई सैदपुर एसडीएम करेंगे और दोनों पक्षों के साक्ष्य, गवाही के आधार पर फैसला देंगे। एसडीएम सर्वेश मिश्र ने इस मामले की सुनवाई के बाद दस अगस्त को वोटों की दोबारा गिनती का आदेश दिया है

Related posts