जबलपुर..एके-47 तस्करी कांड: 438 राउंड कारतूस के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ा सरफराज

एके-47 तस्करी कांड: 438 राउंड कारतूस के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ा सरफराज
जबलपुर।
एके-47 तस्करी मामले की जांच में जुटी मुंगेर पुलिस ने इस कांड के मुख्य आरोपित मंजर आलम उर्फ मंजी के भांजे सरफराज आलम को 438 राउंड कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया है। सरफराज के घर से 9 एमएम के 239 राउंड और 7.65 एमएम के 199 राउंड कारतूस बरामद किए गए हैं। मुंगेर एसपी बाबू राम ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि मंजर आलम उर्फ मंजी के भांजे सरफराज के शंकरपुर की आईटीसी कालोनी स्थित घर में भारी मात्रा में कारतूस छिपा कर रखे गए हैं। इसके बाद मुफस्सिल थानाध्यक्ष कुमार ने पुलिस टीम के साथ सरफराज के घर पर छापेमारी की। पुलिस बल को देखते ही सरफराज ने घर से भागने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने घेराबंदी कर उसे धरदबोचा।
एसपी ने कहा कि सरफराज का पूर्व से आपराधिक रिकॉर्ड रहा है। 2014 में दिल्ली
में एके-47 की बरामदगी मामले में भी मंजर आलम के साथ सरफराज तिहाड़ जेल में सजा
भुगत चुका है। सरफराज मंजर के लिए हथियार तस्करी का प्रबंध किया करता है। उसने
एके-47 की तस्करी मामले में भी मंजर को सहयोग किया था। सरफराज पुरबसराय में आटो पार्ट्स की दुकान चलाने की आड़ में मुख्यतः हथियार तस्करी का धंधा करता है।
अब तक 31 आरोपित जेल जा चुके
मालूम हो कि एके-47 तस्करी मामले में अबतक 31 आरोपित गिरफ्तार किए जा चुके हैं।
इसमें संलिप्त लगभग 20 और अपराधियों की तलाश जारी है। वे सभी अपराधी विभिन्न
जिलों के हैं।

Related posts