जबलपुर..बड़ी खबर: भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री बब्बू पर,आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज

बड़ी खबर: भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री
बब्बू पर आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज
विधानसभा क्षेत्र में बांट रहे थे घड़ी
जबलपुर।
आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में जबलपुर में भाजपा के एक कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का प्रकरण दर्ज किया गया। आरोप है कि पूर्व मंत्री अपने विधानसभा क्षेत्र में घडिय़ों का वितरण करा रहे थे। इससे मतदाताओं को प्रलोभन दिए जाने जैसे आरोप से जोड़ा जा रहा है।

फोटोग्राफी करायी गई
थाना गढा में को भूपेन्द्र सिंह उम्र 58 वर्ष निवासी शिव नगर ने लिखित शिकायत की कि वह सहायक यंत्री सिचाई विभाग बरगी मे पदस्थ है। उसकी डियूटी जिला निर्वाचन कार्यालय जबलपुर मे विधानसभा चुनाव 2018 के पश्चिम विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 100 में एफ.एस.टी के दल क्रमांक 2 मे लगायी गयी है। वह एवं बोहत सिंह पटेल लेखापाल स्वास्थ विभाग विक्टोरिया अस्पताल व सउनि विनोद दुबे थाना संजीवनी नगर जबलपुर सुरेश शिवहरे फोटो ग्राफर निवासी बरगी हिल्स कालोनी जबलपुर एवं चुनाव वाहन चालक अभिषेक सिंह वाहन से निवासी पुलिस लाईन गढा के साथ डियूटी पर थे । जिलाध्यक्ष कार्यालय के चुनाव सेल के माध्यम से टेलीफोन पर सूचना मिली कि थाना गढा के पास बजरंग नगर बस्ती में कुछ लोग घड़िया बांट रहे है। सूचना पर टीम के साथ मौके पर जाकर देखा तो छोटा हाथी वाहन में कुछ लोग बैठे थे। घडिय़ां बाटकर जाते दिखे जिन्हें रोककर पूछा व फोटो ग्राफी करायी गई तथा कुछ मकानों में भा.ज.पा के पूर्व विधायक हरेन्द्रजीत सिंह बब्बू मौके पर उपस्थित होकर वाहन में रखी घडि़ाया वितरण करवा रहे थे । जिसकी वीडियोग्राफी की गई।


लगी है फोटो
घडियों में हरेन्द्रजीत सिंह बब्बू की फोटो लगी है। मौके पर उसके द्वारा मथुरा प्रसाद ,राखी, अनिल सोनी एवं अन्य लोगों से पूछताछ करने पर हरेन्द्रजीत सिंह बब्बू द्वारा घडिय़ा वितरण करना बताया एवं दिखाया जिसकी वीडियोग्राफी की गई एवं मथुरा प्रसाद और राखी बाई से घडी जप्त की गई कुल दो घडिय़ा ही जप्त हो पायीं है । हरेन्द्रजीत सिंह बब्बू पूर्व विधायक का कृत्य चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन पाया गया एवं प्रलोभन देना पाया गया। जिसकी सम्पूर्ण जानकारी मेरे द्वारा चुनाव कार्यालय की शाखा में दी गई । जहा से मुझे आदेश दिया गया कि पुलिस थाना गढा जाकर एफआईआर दर्ज करायें। लिखित शिकायत पर धारा 188,171 बी, 171 ई, भादवि एवं 123 आई लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।

Related posts