कीड़े लगे चावल भेजने वाला मैनेजर सस्पेंड

बालाघाट से विदिशा भेजी गई 2200 मैट्रिक टन चावल की रैक में कीडे पाये जाने पर जिला प्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम विदिशा द्वारा प्रबंध संचालक को अवगत कराया गया। इस चावल को सर्वाजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से बीपीएल कार्डधारी नागरिकों को वितरित किया जाना था। इस तथ्य का खुलासा भेजे गये चावल की गुणवत्ता की जांच किये जाने पर हुआ। इसके चलते निगम के प्रबंध संचालक श्री विकास नरवाल ने बालाघाट के जिला प्रबंधक एमएस तोमर को निलम्बित कर दिया है। निलम्बन की अवधि में उन्हें जबलपुर पदस्थ किया गया है।
प्रबंध संचालक श्री विकास नरवाल ने अवगत कराया की चावल में कीड़े पाये जाने की रिपोर्ट उन्हें 18 जुलाई को प्राप्त हुई थी। उन्होने स्वंय भेजे गये चावल का निरीक्षण किया एवं गुणवत्ता का परीक्षण कराया। चावल में कीडे पाये गये। अमानक चावल पाये जाने पर जिला प्रबंधक एमएस तोमर की लापरवाही पाई गई है।
उन्होने कहा की गुणवत्ता की जांच किये बिना चावल की रैक पास ही नही की जानी थी लेकिन जिला प्रबंधक द्वारा इस संबंध में अनदेखी करते हुये चावल की रैक भिजवा दी। उन्होने यह भी कहा की विगत 3 माह के अंतराल मे बालाघाट से भिजवाये जा रहे चावल की गुणवत्ता परीक्षण में लापरवाही की शिकायते मिल रही थी जो बेहद गभीर है। जिला प्रबंधक सहित राईस मिलर्स और विभाग के अधिकारियों के विरूद्ध इस मामले में कार्यवाही की जायेगी। यह उल्लेखनीय है कि 3 माह के अंदर अमानक चावल भेजे जाने का यह दूसरा मामला है अशोकनगर भेजी गई चावल की रैंक में भी अमानक स्तर का चावल पाया गया था

Related posts