जबलपुर..लूट के बाद हत्या कर गैस टंकी में लगाई गई थी आग,,कारोबारी ने बच्चों के नाम लॉकर में रखे थे पौने तीन करोड़

लूट के बाद हत्या कर गैस टंकी में लगाई गई थी आग
अज्ञात के खिलाफ प्रकरण दर्ज
जबलपुर।
शहपुरा थाना अंतर्गत रविवार एवं सोमवार की दरम्यिानी रात किराना व्यापारी मंगल जैन की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। साथ ही गैस सिलेंडर फटने से हुए हादसे में उसकी तिजोरी में रखे रूपए भी जलकर खाक हो गए थे। इस ह्रदय विदारक घटना में पुलिस ने जांच के बाद अज्ञात के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर पतासाजी शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक जांच
में पाया गया कि लूट के बाद व्यापारी की हत्या कर गैस टंकी में आग लगाई गई थी।

क्या था मामला
गौरतलब हो कि जिले के शहपुरा के भिटौनी में रविवार एवं सोमवार की दरम्यिानी रात 3:20 बजे किराना व्यापारी 45 वर्षीय मंगल जैन के घर गैस सिलेंडर ब्लास्ट होने से भीषण आग लग गई थी। घटना उस समय घटी, जब मंगल जैन अपने घर पर सो रहे थे। मंगल जैन के घर में आग लगते ही स्थानीय लोगों ने तुरंत ही फायर ब्रिगेड को इसकी सूचना दी। कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया था लेकिन तब तक घर और दुकान में रखा सारा सामान जलकर खाक हो गया। साथ ही किराना व्यापारी मंगल जैन की भी जलकर दर्दनाक मौत हो गई थी। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाते हुये मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी
थी।

अलमारी के टूटे ताले से लगा सुराग
पुलिस ने बताया कि दौरान जांच के घटना स्थल के निरीक्षण पर पाया गया कि मकान का सामान बिखरा है, गोदरेज की अलमारी के अंदर का ताला टूटा है एवं नगदी व जेवरात गायब है। प्राप्त पीएम रिपोर्ट मे डाक्टर द्वारा मृत्यु उपरांत मृतक का शव जलाना लेख किया गया है। आसपास के लोगो के कथन लिये गये जिन्होने बताया कि मृतक मंगल उर्फ राजकुमार जैन पैरों से अपंग था।

साक्ष्य छुपाने लगाई आग
प्राप्त पीएम रिपोर्ट पर एवं कथनों तथा घटना स्थल के निरीक्षण, पर किसी अज्ञात के द्वारा मृतक के घर मे लूट की घटना घटित कर मंगल उर्फ राजकुमार जैन की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के लिये किचिन में रखी गैस की टंकी को
बैडरूम में लाकर आग लगा कर भाग जाना पाया जाने पर अज्ञात के खिलाफ हत्या
का मामला दर्ज कर उसकी पतासाजी शुरू कर दी गई हैं।

………………………………………………………………………………………………….
कारोबारी ने बच्चों के नाम लॉकर में रखे थे पौने तीन करोड़
जबलपुर आयकर विभाग ने महाराष्ट्र की सीमा से लगे पांढुर्ना में गुटखा व्यापारी के यहां छापा मारा
जबलपुर।
जबलपुर आयकर विभाग ने महाराष्ट्र की सीमा से लगे पांढुर्ना में गुटखा व्यापारी के यहां छापा मारा। व्यापारी के 6 गोदाम और दुकान की छानबीन में कर चोरी के अहम सुराग मिले हैं। आईटी की इन्वेस्टीगेशन विंग ने गुटखा व्यापारी शंकरलाल तनवानी के नागपुर में निजी लॉकर से पौने तीन करोड़ रुपए नकद जब्त किए हैं। ये लॉकर व्यापारी के बेटे-बेटी केनाम पर संचालित हो रहे थे।

आईटी नागपुर के सूत्रों के मुताबिक तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चल रही जांच में मिले अहम सुराग से नागपुर के व्यापारी के लॉकर का पता चला। इसके बाद नागपुर के इस लॉकर के बारे में विभाग ने वहां मौजूद इन्वेस्टीगेशन विंग की मदद भी ली है।

जबलपुर आईटी की इंवेस्टीगेशन विंग को इसकी खबर लगते ही 30 से 40 अधिकारियों की टीम देर शाम पांढुर्ना पहुंची और व्यापारी के सभी 6 गोदाम सील कर दिए। वहीं नागपुर में मिले प्राइवेट लॉकर की नकदी को जब्त कर लिया गया है और अब इंवेस्टीगेशन विंग व्यापारी से पूछताछ कर ऐसे लोगों की सूची बना रहा है, जिन्होंने निजी लॉकर ले रखे हैं। कारोबारी के पिछले कई वर्षों के आयकर विवरण का ब्यौरा भी निकाला गया जिसमें पता चला कि इसमें साल में सिर्फ 2 से 3 लाख रुपए रिटर्न दिखाया है, जिससे कर चोरी के अहम दस्तावेज मिले हैं।

हवाला के पौने पांच करोड़ किए जब्त
इस मामले में विभाग यह भी पता लगा रहा है कि यह नकद रकम कारोबारी के पास कहां से आई और इसे कहां भेजा जाना था। मामले को चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है। जबलपुर के हवाला एवं खिलौना कारोबारी के यहां मिले एक हजार करोड़ रुपए के हवाला मामले की जांच में विभाग को कुछ और सुराग भी मिले हैं। अब तक जबलपुर इंवेस्टीगेशन विंग ने हवाला के तकरीबन पौने पांच करोड़ रुपए जब्त कर रिकॉर्ड बनाया है।

Related posts