जौनपुर में फर्जी आईपीएस गिरफ्तार

जौनपुर, 31 जुलाई एएनएस)। उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के लाइन बाज़ार क्षेत्र से भारतीय पुलिस सेवा(आईपीएस) का अधिकारी बनकर लोगों को ठगने वाले एक जालसाज को आज गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने यहां बताया कि एक व्यक्ति ने आज फोन करके कहा कि वह 1995 बैच का आईपीएस अधिकारी है और डेपुटेशन पर राॅ में काम कर रहा है। उसे एक वाहन चाहिए जिसे वाराणसी के रेलवे स्टेशन पर भेज दीजिये। आई पी एस के नाम पर पुलिस अधीक्षक ने राकेश तिवारी को उचित सम्मान दिया। लेकिन बातचीत का सिलसिला आगे बढ़ने पर पुलिस अधीक्षक को कुछ शक हुआ तो कड़ाई से पूछ तांछ किया। तब राकेश तिवारी टूट गया और असलियत सबके सामने आ गई।
पुलिस कप्तान के निर्देश पर थाना लाइन बाजार की पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर ले गयीं । राकेश तिवारी के घर बरसठी के मलाई में पता किया गया तो पता चला कि राकेश पिछले दो माह से मानसिक रूप से बीमार चल रहा है।उसके पिता विभूति नारायण तिवारी मुंबई में सेंचुरी मिल में कार्यरत थे। राकेश भी माँ बाप के साथ मुंबई में ही रहता था। उसकी शिक्षा दीक्षा भी मुम्बई में ही हुई थी। पिता की मृत्यु भी हो गयी ,जिनकी गत 29 जुलाई को तेरहवी थी। पिता की मौत का बाद राकेश तिवारी और मानसिक रूप से विक्षिप्त हो गया है। तीनभाईयों में राकेश दूसरे नंबर पर है। राकेश की स्थिति को लेकर पूरा परिवार परेशान है।लाईन बाजार पुलिस फरजी आई पी एस का इतिहास खगाल रही है

Related posts