बालाघाट वारासिवनी:..नेताजी माथे पर चिंता की लकीरे क्यों,, आखिर क्या जरूरत है वोट मांगने की

नेताजी माथे पर चिंता की लकीरे क्यों
आखिर क्या जरूरत है वोट मांगने की
महेश कातरे सम्पादक सुप्रीम पावर हंटर डाट काम
– मेंढक तो जानते ही होंगे आप? प्रायः सभी जानते है। बरसाती मेंढक भी जानते होंगे बिल्कुल जानते होंगे बरसाती मेंढकों की आवाज भी सुनी होगी। अधिकतर लोगो ने तो सुनी ही होगी। आप ने सोचा है। बारिश आते ही मेंढकों की आवाजें बड़ी ही ऊंॅचे स्वर में दूर तक सुनाई देती है। एक ही नही अपीतु झूंड़ों में मेंढकों की सामूहिक आवाजे भी करकस पैदा करती हुई आप हम सब के कानो तक पहुंचती है। किंतु समझ कुछ नहीं आता। बल्कि जिस तरफ से ज्यादा करकस आवाजे आती है। उस तरफ हमारा ध्यान जरूर जाता है।
बस यही है रानजनीति, यही है चुनाव की बानगी और यही है, ऊंॅचे स्वरों में प्रचार प्रसार। अपने आप को विकाश पुरूष का स्वयं ही दर्जा देकर अपने ही मूंह मिठू बनने का खोखला दावा, बढ़चढ़कर प्रचार-प्रसार बैनर पोस्टर की भरमार और वाहनो में लगे कान फोडू स्पीकर यहीं तक तो सीमट कर रह गई है राजनीति। और नेताजी का विकाश, बस यही क्रम आप हम सभी को अभी देखने मिल रहा है। चुनाव जो आ गयेे है।

अब नेताजी गांॅव की ओर जा रहे है। छोटे-छोटे कार्यक्रमों में हिस्सा ले रहे है। चंदा भी देंगे वोट जो लेना है। और हम वोट भी देंगे लोकतंत्र है। हमारे वोट की अपने क्षेत्र से लेकर देश के विकाश में महती भूमिका है। हम अच्छे राष्ट्रनिर्माता की नींव है, शायद इसलिये हमे सही चुनाव भी करना पड़ता है। और करते भी है। आगे भी करेंगे आज मतदाता समझदार हो चुका है। अच्छा, बुरा, विकाश, सब जानता है। और इस बार भी आकलन कर अपना वोट देगा। लेकिन मन में एक सवाल बार-बार उठ रहा है। कि नेता जी के माथे पर चुनाव आते ही चिंता की लकीरे क्यों आ जाती है? आखिर क्यों? क्या यह सवाल महत्वपूर्ण नही है, महत्वपूर्ण हो सकता है। अगर इसे हम गहराई से सोचे ता,े

चुनाव आते ही प्रत्याशी रूपी नेताओ की बाढ़ सी आ जाती है। जो बड़े ही दम खम के साथ चुनावी वैतरणी को पार करने पूरा जोर लगाते है। गांॅव-गांॅव घूमकर अपने लिये एक वोट मांगते है। क्यों नेताजी? क्या जरूरत है, आपको वोट मांगने की? अरे आपने अगर जनता के लिये काम किया है। जनता की समस्याओं के लिये लड़ा है।

अपनी क्षेत्र की समस्या के लिये आंदोलन किया है। अपने तहसील जिला मे व्याप्त क्षेत्रीय समस्या शराब, रेत, उत्खनन, भ्रष्टाचार, नकली चांवल, धान के समर्थन मूल्य प्याज की अफरा तफरी, अवैध धंधे, सड़को की हालत, नकली खाद बीज की बिक्री, और ऐसी अनेक समस्या जो सीधे आम लोगो से जुडी है। उसके लिये आपने ल़ड़ा है। तो आपको चिंता करने की जरूरत नही है। जनता स्वयं मतदान केंन्द्र तक खुद चलकर आपको वोट देने आयेगी उन्हें वाहनो से ढोेने की जरूरत भी नही पडे़गी। जनता इतीन एहसान फरामोस नही की वह आपके द्वारा किये गये जनता हितैषी कार्यो को नजर अंदाज कर दे।

इसलिये बरसाती मेंढक की तरह टर्राराने की आवश्यकता नही है। और ना ही चिंता करने की जरूरत। निश्चित ही जनता आपको वोट देगी। अगर आपने सच में जनता के बीच जाकर उनकी पीड़ा सुनी है। उनका दर्द जाना है, किसानों मजदूरों, महिलाओं व्यापारियों की समस्या को जाना है। उनकी समस्या के निदान के लिये आपने भरसक प्रयास किया है। तो यकिन मानिये आज का जागरूक युवा, बुजुर्ग मतदाता इतना एहसान फरामोस नहीं की वह आपके द्वारा उनके लिये किये गये प्रयासो को भूल जाये। वह निश्चित ही आपको अपना मतदान करेगा। क्योंकि उसे भी समझता है। कि उसके एक मत से वह ऐसे सच्चे नेता को चुन सकता है। जो उसके एवं उसके क्षेत्र का सही प्रतिनिधित्व कर सके।

नेताजी अपने आप को समाज सेवक, जनता का हितैषी, विकाश पुरूष किसान का बेटा खुद ही अपनी जुबान से कहते हुये लोगों के बीच जाना कितना उचित है। क्या क्षेत्रीय जनता क्षेत्र का युवा नहीं समझता की आखिर कौन क्या है। क्षेत्रवासियों को यह सब बताने की आवश्यकता नहीं है। शिक्षा का स्तर ऊपर उठ चुका है। लोग शिक्षित है, अच्छे बुरे की पहचान करना जानते है। कंबल, साड़ी, पैसा, दारू इनकी जरूरत क्या है। क्या इस लालच में आकर क्षेत्रीय मतदाता अपना वोट प्रदान करेगा। नही बिल्कुल भी नही क्योकि जागरूकता अभियान भी चल चुका।
अब लालच प्रलोभन नही चलने वाला जनता ने अपना मन बना लिया है। और जनता अपने मन का यह हिसाब अपने मत का प्रयोग कर अपने अधिकार का सदुपयोग करने वाली है। सभी प्रत्याशियों का आकलन भी जनता कर रही है। उन्हे भी पता है। कि 5 सालों में एक बार उनका दिन आता है। जो क्षेत्र, प्रेदश और देश कि सियासत के लिये महत्वपूर्ण होता है। अतः इस बार भी जनता बढ़चढकर मतदान में हिस्सा लेगी वोट का प्रतिशत बढ़ायेगी और अपने सच्चे नेता का चुनाव करेगी, इसलिये नेताजी आपकों ज्यादा परेशान या चिंतित होने की जरूरत नही आपने जनता के लिये किया है। तो जनता आपके लिये जरूर करेगी।

Related posts