राज्यपाल से मिले तेजस्वी, आज पूरे बिहार में विश्वासघात दिवस मनाएगी RJD

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार के राज्यपाल के पास संविधान बचाने का ऐतिहासिक मौका है. सरकार बनाने का न्योता नीतीश को देने और शपथ ग्रहण का समय सुबह दस बजे ही कर देने के विरोध में आरजेडी और कांग्रेस के विधायकों ने राजभवन तक मार्च किया. यह मार्च आरजेडी नेता तेजस्वी और तेजप्रताप के नेतृत्व में हुआ. तेजस्वी के साथ पांच आरजेडी नेता राज्यपाल से मिले. पूरे बिहार में आरजेडी आज विरोध प्रदर्शन करेगी.
राज्यपाल से मुलाकात के बाद तेजस्वी यादव ने पत्रकारों को बताया कि राज्यपाल ने अब यह तय कर लिया है कि सुबह जेडीयू सरकार को शपथ ग्रहण कराना है. राज्यपाल के पास संविधान को बचाने का एक ऐतिहासिक मौका है. आरजेडी सबसे बड़ी दल है, इसलिए उसे सरकार बनाने का न्योता पहले देना चाहिए था. संविधान के मुताबिक जो परंपरा रही है, गवर्नर सबसे बड़े दल को न्योता देते हैं. गवर्नर को पहले आरजेडी को बुलाना चाहिए जो कि नहीं हुआ. हमारे पास बड़ी संख्या है. जेडीयू के अधि‍कांश विधायक भी हमारे साथ हैं. हमें फ्लोर पर बहुमत साबित करने का मौका देना चाहिए था.
उन्होंने कहा कि ये पूरा घटनाक्रम सुनियोजित ढंग से हुआ है. एनडीए के लोगों ने तानाशाह की तरह लोकतंत्र की हत्या करने का प्रयास किया है, बिहार की जनता के ऐतिहासिक जनादेश को अपमानित करने का प्रयास किया है. मुख्यमंत्री के ख‍िलाफ आर्म्स एक्ट, मर्डर तक के गंभीर मामले हैं. कोर्ट में केस चल रहा है. वे इतने दाग होते हुए अब किस मुंह से फिर शपथ लेंगे.
उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार आख‍िर किस मुंह से बीजेपी के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं. वे 28 साल के एक लड़के से डर गए हैं. उनमें हिम्मत है तो फिर से जनादेश का सामना करें.

Related posts